हत्या के प्रयास के आरोपी को हुआ 5 वर्ष का सश्रम कारावास

महावीर अग्रवाल
मंदसौर ११ सितम्बर ;अभी तक;  चतुर्थ अपर सत्र न्यायधीष श्री संतोष चौहान मंदसौर द्वारा आरोपी नरेष पिता भगतराम पाटीदार उम्र 45 साल नि0 बही पार्ष्वनाथ थाना पिपलिया मंडी जिला मंदसौर को हत्या के प्रयास का दोषी पाते हुए 5 वर्ष का सश्रम कारावास एवं 500 रूपये अर्थदण्ड से दण्डित किया।
                     मिडिया सेल प्रभारी नितेष कृष्णन द्वारा बताया गया कि मामला इस प्रकार है कि फरियादी अजयपाल ने दिनांक 24.10.2017 को थाना पिपलियामंडी में इस आषय की रिपोर्ट लेखबद्ध कराई कि वह ग्राम बही में रहता है गांव के ही नरेष पाटीदार द्वारा चिटफंड कंपनी चलाई जा रही थी जिसका ऑफिस मेघदूत नगर मंदसौर में था। मै एवं मेरे गांव का राहुल चौधरी 01 वर्ष पूर्व काम करते थे, मैने नरेष पाटीदार से मजदूरी के 60 हजार रू मांगे तो नरेष पाटीदार ने मेरे साथ गाली गलौच कर, पकडकर जान से मारने की नियत से देषी कट्टे से फायर किया, मैने अपना बचाव किया तो मेरे दायें पैर की पिंडली में गोली लगी तब मुझे नरेष पाटीदार ने लालच देकर एवं पैसे लौटाने का बोलकर रिपोर्ट नही करने पर बही के डॉक्टर कमलेष पाटीदार से इलाज करवा दिया, किंतु बाद में 60 हजार रू नही दिये एवं रंजिष रखने लगा। उक्त रंजिष को लेकर घटना दिनांक को रात्रि 10 बजे मै और राहुल चौधरी घर जा रहे थे तो रास्ते में नरेष पाटीदार ने अपने घर के उपर से उनके उपर जान से मारने की नियत से 12 बोर बंदूक से फायर किया तो राहुल चौधरी  के पापा नंदकिषोर रोड पर खडे थे जिनको दायें हाथ के नीचे पेट की तरफ छर्रा लगा जिससे चिल्लाचोट हुई तो नरेष नंगी-नंगी गालियां देता हुआ बंदूक एवं लट्ठ लेकर आया एवं राहुल के मकान का दरवाजा लात मारकर तोड दिया। मौके पर राहुल, नंदकिषोर,हिंदू सिंह बावरी एवं हरिसिंह खडे थे । नरेष पाटीदार ने जान से मारने की नियत से 12 बोर बंदूक से मेरे उपर हमला किया जिससे मेरे दोस्त राहुल चौधरी के पिता नंदकिषोर को छर्रा लगा। फरियादी की रिपोर्ट पर से आरोपी नरेष पाटीदार के विरूद्ध थाना पिपलिया मंडी पर अप0 क्र0 340/2017 अंतर्गत धारा 307,294 भादवि दर्ज कर विवेचना उपरांत 27,30 आर्म्स एक्ट का इजाफा कर अभियोग पत्र न्यायालय में पेष किया गया।
माननीय चतुर्थ अपर सत्र न्यायधीष महोदय श्री संतोष चौहान सा0 मंदसौर द्वारा आरोपी नरेष पिता भगतराम पाटीदार उम्र 45 साल नि0 बही पार्ष्वनाथ थाना पिपलिया मंडी जिला मंदसौर को हत्या का प्रयास के आरोप में धारा 307 भादवि में 5 वर्ष का सश्रम कारावास एवं 500 रूपये जुर्माना, 27(2) आयुध अधि0 में 3 वर्ष सश्रम कारावास एवं 500 रूपये जुर्माना से दण्डित किया।
प्रकरण में अभियोजन का सफल संचालन लोक अभियोजक कांतिलाल राठौर द्वारा किया गया।