हाईकोर्ट ने जिला शिक्षा अधिकारी भिंड के जवाब को बताया गलत, मामला शिक्षकों को वेतन नवंबर 2019 से मार्च 2021 तक नहीं देने का

 भिंड से डॉ रवि शर्मा
भिंड ८ सितम्बर ;अभी तक; बिना किसी ठोस कारण के शिक्षक का वेतन नहीं देने के मामले में भिंड के जिला शिक्षा अधिकारी हरभजन सिंह तोमर की मुश्किलें बढ़ती दिख रही हैं । हाईकोर्ट ने इस मामले में जिला शिक्षा अधिकारी को यह बताने के लिए कहा है कि मार्च 2021 को वित्तीय वर्ष समाप्त होने के बाद शिक्षक का वेतन क्यों रोका गया किन परिस्थितियों में इस आधार पर वेतन का भुगतान नहीं किया गया । शिक्षक ने टैक्स संबंधी जानकारी प्रदान नहीं की जबकि टीडीएस काटने का काम विभाग का होता है ।
                कोर्ट ने यह भी पूछा है कि जब शिक्षक को नवंबर 2019 से वेतन नहीं दिया गया तो किस प्रावधान के अंतर्गत अब आयकर भरने के लिए जवाब दिया है इस मामले की अगली सुनवाई 8 सितंबर को होगी एडवोकेट विवेक मिश्रा ने बताया कि भिंड में पदस्थ शिक्षक महेंद्र सिंह कुशवाहा को नवंबर 2019 से मार्च 2021 तक वेतन का भुगतान नहीं किया गया हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई इसके बाद इसमें बताया गया कि शिक्षा विभाग ने टीडीएस की जानकारी नहीं देने का हवाला देते हुए वेतन का भुगतान नहीं किया इस मामले में जिला शिक्षा अधिकारी भिंड ने भी जवाब पेश किया लेकिन कोर्ट ने उसे गलत बताया हाईकोर्ट ने कहा क्यों न वेतन रोकनेकी के मामले में 12 परसेंट ब्याज के साथ भुगतान किया जाए