हाथ ठेले और फुटपाथ की दुकानों से हर दिन वसूली की जा रही

रवि शर्मा
भिंड १३ सितम्बर ;अभी तक; भिंड जिले की तहसील मेहगांव नगर पालिका परिषद गांव के मुख्य बाजार में लगने वाले हाथ ठेले और फुटपाथ की दुकानों से हर दिन ₹5 प्रति दुकान के हिसाब से वसूली की जा रही है नगर में 3 से 3 से भी अधिक दुकानें हैं दुकानों से वसूली की जाने वाली राशि नगर परिषद के कोष में जमा नहीं की जा रही है अधिकारियों की अनदेखी का फायदा वसूली करने वाले लोग उठा रहे हैं ।
                  नगर परिषद को इससे लाखों रुपयों का 1 वर्ष का राजस्व नुकसान हो रहा है नगर की बाजार में दुकानदारों से वसूली करने के बाद उसे नगरपालिका कोष में जमा नहीं कराने की धांधली की जा रही है इसके कम राशि नगर पालिका परिषद के खाते में जमा हो रही है सबसे अधिक भुगतान नगर परिषद को हो रहा है नगर में करीब 345 छोटी दुकानें हैं इसमें हाथ ठेले दुकानों के बाजार फुटपाथ पर लगाई जाने वाली दुकानों की संख्या शामिल है एक दुकानदार से प्रतिदिन ₹5 की राशि वसूल की जा रही है इसमें प्रतिदिन 17 ₹25 की वसूली की जा रही है लेकिन नगर पालिका परिषद में यह राशि कम जमा की जा रही है इस कारण नगर पालिका परिषद महंगा व जिला भिंड और नगरपालिका को खाली बताया जा रहा है वर्तमान में नगर पालिका सूत्रों के मुताबिक अधिकारियों ने बताया इस वक्त वर्तमान में नगर पालिका में कुछ ही खाली पड़ा है नगरपालिका का मेहगांव भिंड मुख्यालय से 20 किलोमीटर दूर नेशनल हाईवे के किनारे बसा तहसील में गांव नगर पालिका परिष है